आज के अखबारों की सुर्खियां 2 जुलाई 2021

आज के अखबारों की सुर्खियां 2 जुलाई 2021

केन्द्र सरकार के सख्त रूख के बाद यूरोप के नौ देशों में कोविशील्ड को मान्यता मिलने की खबर लगभग सभी अखबारों में हैं। अमर उजाला कहता है भारत के सख्त रुख के बाद मिली है कामयाबी। पत्र ने विश्व स्वास्थ्य संगठन – डब्ल्यू.एच.ओ. के हवाले से लिखा है – हमारी मान्यता वाले सभी टीकों को मिले मंजूरी। हरिभूमि ने इसे बड़ी सफलता बताते हुए लिखा है कि कोविशील्ड की खुराक लिया हुआ व्यक्ति जर्मनी, स्लोवानिया, ऑस्ट्रिया, ग्रीस, आइसलैंड, आयरलैंड, स्पेन और स्विट्जरलैंड की यात्रा कर सकेगा।

भारतीय कंपनी जायडस कैडिला द्वारा कोरोना वैक्सीन जायकोव-डी की आपात इस्तेमाल की मंजूरी को राजस्थान पत्रिका ने नई उम्मीद बताते हुए लिखा है- बिना सुई वाले स्वदेशी टीके से सुरक्षित होगा देश का बचपन।

राष्ट्रीय सहारा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के इस विश्वास को प्रमुखता से दिया है- कोरोना से जीतेगा भारत- कल डॉक्टर्स डे पर चिकित्सा जगत से जुड़े लोगों को संबोधित करते हुए उनका यह कहना कि विकास के नए आयाम भी हासिल करेगा देश को भी अखबारों में प्रमुखता से दिया है। नवभारत टाइम्स की सुर्खी है – योग पर रिसर्च शुरू करे डॉक्टर। लोकसत्य ने प्रधानमंत्री के इन शब्दों को प्रमुखता से दिया है कि डिजिटल इंडिया सशक्तिकरण का माध्यम इससे श्रम, समय और धन की भी बचत होगी।

लगातार आठ महीने से एक लाख करोड़ रुपये से ऊपर है जी.एस.टी राजस्व इस खबर को राष्ट्रीय सहारा ने अर्थ-जगत पन्ने पर देते हुए लिखा है कि वित्त मंत्री ने कहा कि अब राजस्व संग्रह में वृद्धि स्थाई रूप से होनी चाहिए।

नौ-सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे का यह कहना ड्रोन हमले से मुकाबले के लिए सेना बन रही सक्षम अमर उजाला में हैं।

अमर उजाला की खबर है कि ब्रिटेन में पोस्ट-स्टडी वीजा का नया मार्ग खुला, भारतीय छात्रों को होगा फायदा। पत्र लिखता है कि अंतरराष्ट्रीय छात्र अब ब्रिटेन में पढ़ाई पूरी करने के बाद वहां दो साल तक रह भी सकेंगे।

गुजरात में अब शेरों की आबादी हुई सात सौ के पार को राजस्थान पत्रिका ने इस वर्ष की अच्छी खबर बताते हुए लिखा है कि सुरक्षित वातावरण, भोजन की पर्याप्त उपलब्धता से ही ये संभव हुआ है।

उत्तर-भारत में भीषण गर्मी पर दैनिक जागरण की सुर्खी है – मॉनसून के समय लग रहे लू के थपेड़े। दैनिक भास्कर कहता है – बड़ी मुश्किल डगर है बारिश करने वाले बादलों की। पत्र ने दुनिया में सर्दी भी, गर्मी भी शीर्षक से लिखा- न्यूजीलैंड में रिकार्ड बर्फबारी। हरिभूमि ने कनाडा में हीट डोम शीर्षक से लिखा है- गर्म हवा के थपेड़ों से तापमान 49 डिग्री से भी ज्यादा पहुंचा। पत्र का कहना है- पांच दिनों में 486 लोगों की जान गई।

Related posts

Leave a Comment