शहरों में वन क्षेत्र के महत्व पर जोर देते हुए वर्चुअल तरीके से आयोजित किया जाएगा विश्व पर्यावरण दिवस समारोह

vishv paryavarn divas

विश्व पर्यावरण दिवस हर साल 5 जून को मनाया जाता है। पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम यूएनईपी द्वारा घोषित विषय पर विश्व पर्यावरण दिवस के कार्यक्रम आयोजित करता है। इस वर्ष का विषय ‘जैव विविधता’ है। कोविड-19 महामारी के मौजूदा हालात को देखते हुए मंत्रालय इस बार विश्व पर्यावरण दिवस समारोह वर्चुअल तरीके से आयोजित कर रहा है, जिसमें शहरों में वन क्षेत्र पर विशेष जोर देगा। केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री श्री प्रकाश जावड़ेकर समारोह में मुख्य अतिथि होंगे। समारोह का सीधा प्रसारण 5 जून को सुबह 9 बजे से onhttps: //www.youtube.com/watch? v= IzMQuhmheoo पर…

Read More

कैबिनेट ने पर्यावरण के क्षेत्रों में सहयोग पर भारत और भूटान के बीच समझौता ज्ञापन को मंजूरी दी

bharat bhutan

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने भारत और भूटान के बीच पर्यावरण के क्षेत्रों में सहयोग पर समझौता ज्ञापन पत्र पर हस्ताक्षर करने को अपनी स्वीकृति दे दी है। विवरण:यह समझौता ज्ञापन दोनों देश में लागू कानूनों और कानूनी प्रावधानों को ध्यान में रखते हुए इक्विटी, पारस्परिकता और पारस्परिक लाभों के आधार पर दोनों देशों को पर्यावरण के संरक्षण और प्राकृतिक संसाधनों के प्रबंधन में निकट और दीर्घकालिक सहयोग को स्थापित और संवर्धित करने में सक्षम बनाएगा। ।दोनों पक्षों के द्विपक्षीय हित और पारस्परिक रूप से…

Read More

उत्‍तरी भारत भर में विशाल टिड्डी दलों के पहुंचने के बीच राजस्‍थान, पंजाब और मध्‍य प्रदेश जैसे प्रभावित राज्‍यों में नियंत्रण अभियानों में तेजी लाई गई

tiddy

सर्वेक्षण और नियंत्रण कार्रवाइयों का संचालन कर रहे हैं 200 टिड्डी सर्कल कार्यालय और अस्थायी शिविर पश्चिमी और उत्तर-पश्चिमी भारत भर में विशाल टिड्डी दलों के पहुंचने के बीच, कृषि एवं किसान कल्याण विभाग (डीएसी एंड एफडब्ल्यू) राजस्थान, पंजाब, गुजरात और मध्य प्रदेश जैसे प्रभावित राज्यों में टिड्डियों पर नियंत्रण पाने की कार्रवाइयों में तेजी लाए हैं। आज तक, ये टिड्डी दल राजस्थान के बाड़मेर, जोधपुर, नागौर, बीकानेर, गंगानगर, हनुमानगढ़, सीकर, जयपुर जिलों और मध्य प्रदेश के सतना, ग्वालियर, सीधी, राजगढ़, बैतूल, देवास, आगर मालवा जिलों में सक्रिय हैं। वर्तमान…

Read More

प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी और आस्ट्रिया गणराज्‍य के राष्‍ट्रपति डा. एलेक्‍जेंडर वान देर बैलन , मिस्र के राष्‍ट्रपति अब्‍देल फतह अल-सीसी , कतर के अमीर शेख तमीम बिन हमद अल-थानी के बीच टेलीफोन पर बातचीत

नेताओं ने आशा व्‍यक्‍त की कि दुनिया जल्द ही मौजूदा स्वास्थ्य संकट से उबर जाएगी, जिसके बाद पर्यावरण की सेहत जैसी दीर्घकालिक चिंताओं पर ध्यान केंद्रित किया जा सकेगा। प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी ने आज ऑस्ट्रिया गणराज्‍य के राष्ट्रपति डॉ. एलेक्‍जेंडर वान देर बैलन के साथ टेलीफोन पर बातचीत की।   ऑस्ट्रिया के राष्ट्रपति ने चक्रवात अम्फान से भारत में हुए नुकसान पर दुख व्यक्त किया। दोनों नेताओं ने कोविड-19 महामारी के स्वास्थ्य और अर्थव्‍यवस्‍था पर पड़ने वाले प्रतिकूल प्रभावों के प्रबंधन के लिए अपने देशों में किए गए उपायों पर विचारों का…

Read More