डीएसटी ने नवाचार, उद्यमिता और इन्क्यूबेशन को समर्थनदेने पर आधारित रिपोर्ट जारी की

DST

विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग के सचिवप्रोफेसर आशुतोष शर्मा ने नवाचार, उद्यमिता, और इन्क्यूबेशन में सहयोग देने के लिए राष्ट्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी उद्यमिता विकास बोर्ड (एनएसटीईडीबी) की यात्रा पर एक रिपोर्ट, ऑनलाइन कार्यक्रम में जारी की। डीएसटी के सचिव प्रोफेसर शर्मा ने रिपोर्ट लॉन्च करते हुए कहा, “राष्ट्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी उद्यमिता विकास बोर्ड (एनएसटीईडीबी) के माध्यम से विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) ने इनक्यूबेटरों के नेटवर्क के जरिये स्टार्टअप पारितंत्र को बढ़ावा देने और पोषण करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। परिणाम की दृष्टि से पिछले पांच वर्षों महत्वपूर्ण…

Read More

रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने एनसीसी प्रशिक्षण के लिए मोबाइल ऐप लॉन्‍च किया

ncc app

कोविड-19 द्वारा थोपे गए प्रतिबंधों को देखते हुए, एनसीसी कैडेटों के प्रशिक्षण पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा था क्योंकि अधिकांशतः यह संपर्क आधारित ही होता है। चूंकि निकट भविष्य में विद्यालयों/महाविद्यालयों के खुलने की संभावना नहीं है, इसलिए ऐसी आवश्यकता महसूस की जा रही थी कि डिजिटल माध्यम के उपयोग के द्वारा एनसीसी कैडेटों को प्रशिक्षण प्रदान किया जा सकता है। रक्षा मंत्री ने ऐप के लॉन्‍च के दौरान वीडियो कॉन्‍फ्रेसिंग के जरिये एनसीसी कैडेटों के परस्पर बातचीत भी की और उनके प्रश्नों के उत्तर दिए। रक्षा मंत्री ने उनकी सफलता की कामना की…

Read More

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने मीडिया प्रोडक्शन के लिए एसओपी जारी की

suchana avem prasaram mantralay

कोविड-19 महामारी को देखते हुए यह अत्‍यंत आवश्‍यक है कि मीडिया प्रोडक्शन से जुड़ी गतिविधियों में शामिल विभिन्न हितधारक अपने-अपने परिचालनों एवं गतिविधियों को फिर से शुरू/संचालित करते समय महामारी के संक्रमण को नियंत्रण में रखने के लिए निश्चित तौर पर समस्‍त उपयुक्त उपाय करें। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के परामर्श से मीडिया प्रोडक्शन के लिए निवारक उपायों पर मार्गदर्शक सिद्धांतों के साथ-साथ मानक परिचालन प्रक्रियाएं (एसओपी) भी तैयार की हैं, जिन्‍हें आज नई दिल्ली में केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री श्री प्रकाश जावड़ेकर…

Read More

डिजिटल इंडिया की बड़ी जीत : स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय की ‘ई-संजीवनी’ टेली मेडिसिन सेवा ने दो लाख टेली-परामर्श पूरे किए

e sanjeevani

यह कीर्तिमान 9 अगस्‍त के बाद केवल 10 दिनों की छोटी अवधि में ही हासिल कर लिया गया है। 9 अगस्‍त को केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने 1.5 लाख टेली-परामर्श पूरे होने के उपलक्ष्‍य में आयोजित बैठक की अध्‍यक्षता की थी। इसे प्रधानमंत्री की ‘डिजिटल इंडिया’ पहल के लिए एक बड़ी सफलता के रूप में देखा जा सकता है। ‘ई-संजीवनी’ प्‍लेटफॉर्म ने कोविड महामारी के समय अपनी उपयोगिता, स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों,  चिकित्‍सा समुदाय और चिकित्‍सा सेवाएं चाहने वालों के लिए आसान पहुंच सिद्ध कर दी है। ‘ई-संजीवनी’ प्‍लेटफॉर्म ने दो प्रकार की टेली मेडिसिन सेवाएं…

Read More