प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 16 जुलाई को गुजरात में कई परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे और राष्ट्र को समर्पित करेंगे

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 16 जुलाई को गुजरात में कई परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे और राष्ट्र को समर्पित करेंगे

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 16 जुलाई, 2021 को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से गुजरात में रेलवे की कई प्रमुख परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे और कई परियोजनाएं राष्ट्र को समर्पित करेंगे। प्रधानमंत्री मोदी कार्यक्रम के दौरान गुजरात साइंस सिटी में एक्वेटिक्स और रोबोटिक्स गैलरी तथा नेचर पार्क का भी उद्घाटन करेंगे।

रेलवे की इन परियोजनाओं में नए तरीके से पुनर्विकसित गांधीनगर राजधानी रेलवे स्टेशन, गेज परिवर्तित की गई और विद्युतीकृत की गई महेसाणा-वरेठा लाइन और नव विद्युतीकृत किया गया सुरेंद्रनगर-पिपावाव खंड शामिल हैं।

प्रधानमंत्री गांधीनगर राजधानी और वरेथा के बीच दो नई ट्रेनों यानी गांधीनगर राजधानी-वाराणसी सुपरफास्ट एक्सप्रेस और एमईएमयू सेवा ट्रेनों को भी झंडी दिखा कर रवाना करेंगे।

गांधीनगर राजधानी रेलवे स्टेशन का पुनर्विकास

गांधीनगर राजधानी रेलवे स्टेशन का अपग्रेडेशन 71 करोड़ रुपये की लागत से किया गया है। स्टेशन को आधुनिक हवाई अड्डों के समान विश्व स्तरीय सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं। इस स्टेशन पर एक विशेष टिकट बुकिंग काउंटर, रैंप, लिफ्ट, समर्पित पार्किंग स्थान आदि प्रदान करके इसे दिव्यांग अनुकूल स्टेशन बनाने के लिए विशेष ध्यान रखा गया है। पूरी इमारत का डिज़ाइन हरित बिल्डिंग रेटिंग सुविधाओं के साथ तैयार किया गया है। अत्याधुनिक एक्सटीरियर फ्रंट में 32 थीम वाली रोजमर्रा की थीम आधारित लाइटिंग होगी। स्टेशन में एक फाइव स्टार होटल भी होगा।

महेसाणा-वरेठा गेज कन्वर्टेड और विद्युतीकृत ब्रॉड गेज लाइन (वडनगर स्टेशन सहित)

293 करोड़ रुपये की लागत से 55 किलोमीटर के महेसाणा-वरेठा गेज परिवर्तन का काम और साथ-साथ 74 करोड़ रुपये की लागत से विद्युतीकरण का काम पूरा किया जा चुका है। इसमें कुल 10 स्टेशन हैं जिनमें विसनगर, वडनगर, खेरालू और वरेठा की चार नई बनाई गई स्टेशन इमारतें भी शामिल हैं। इस सेक्शन पर एक प्रमुख स्टेशन वडनगर है, जिसे वडनगर-मोढेरा-पाटन हेरिटेज सर्किट के अंतर्गत विकसित किया गया है। वडनगर स्टेशन की इमारत को पत्थर की नक्काशी का इस्तेमाल करके सुंदर ढंग से डिजाइन किया गया है और आसपास आवाजाही के क्षेत्र में लैंडस्केप जैसी सजावट की गई है। वडनगर अब एक ब्रॉड गेज लाइन के जरिए जुड़ जाएगा और अब इस सेक्शन पर यात्री और मालगाड़ियों को निर्बाध रूप से चलाया जा सकेगा।

सुरेंद्रनगर-पीपावाव सेक्शन का विद्युतीकरण

ये परियोजना कुल 289 करोड़ रुपये की लागत से पूरी की गई है। ये परियोजना पालनपुर, अहमदाबाद और देश के अन्य हिस्सों से पीपावाव बंदरगाह तक बिना रुकावट के माल ढुलाई की निर्बाध आवाजाही प्रदान करेगी। लोको बदलाव के कारण रोके जाने को टालते हुए अब ये अहमदाबाद, वीरमगाम और सुरेंद्रनगर के यार्डों में भीड़भाड़ को कम करेगी।

एक्वेटिक्स गैलरी

इस अत्याधुनिक सार्वजनिक एक्वेटिक्स गैलरी में दुनिया के विभिन्न क्षेत्रों से संबंधित जलीय प्रजातियों को समर्पित विभिन्न टैंक हैं, जिनमें एक मुख्य टैंक भी शामिल है जिसमें पूरी दुनिया की प्रमुख शार्क मछलियां हैं। यहां एक अनोखी 28 मीटर लंबी वॉकवे टनल भी है जो एक अनूठा अनुभव देती है।

रोबोटिक्स गैलरी

ये रोबोटिक्स गैलरी दरअसल रोबोटिक तकनीक की तरक्की को प्रदर्शित करने वाली एक इंटरैक्टिव गैलरी है, जो यहां आने वाल लोगों को रोबोटिक्स के निरंतर आगे बढ़ते क्षेत्र से परिचय कराने का मंच प्रदान करेगी। इसके प्रवेश द्वार पर ट्रांसफॉर्मर रोबोट की एक विशाल प्रतिकृति लगाई गई है। इस गैलरी में एक अनूठा आकर्षण एक रिसेप्शन ह्यूमनॉइड रोबोट है जो खुशी, आश्चर्य और उत्तेजना जैसी भावनाओं को व्यक्त करते हुए यहां आने वाले लोगों से संचार करता है। इस गैलरी के विभिन्न तलों पर अलग अलग क्षेत्रों के रोबोट रखे गए हैं जो चिकित्सा, कृषि, अंतरिक्ष, रक्षा और रोजमर्रा की जिंदगी में इस्तेमाल होने वाली एप्लीकेशंस को प्रदर्शित करते हैं।

नेचर पार्क

इस पार्क में मिस्ट गार्डन, चेस गार्डन, सेल्फी पॉइंट, स्कल्पचर पार्क और आउटडोर मार्ग सहित कई खूबसूरत विशेषताएं हैं। इसमें बच्चों के लिए डिज़ाइन की गई दिलचस्प भुल-भुलैया भी हैं। इस पार्क में वैज्ञानिक जानकारी से भरपूर प्राचीन मैमथ, टेरियर बर्ड, सेबर टूथ लॉयन जैसे विलुप्त जानवरों की विभिन्न मूर्तियां भी नजर आती हैं।

Related posts

Leave a Comment