स्पुतनिक लाइट वैक्सीन के तीसरे चरण के परीक्षण की अनुमति देने की सिफारिश की गई

स्पुतनिक लाइट वैक्सीन के तीसरे चरण के परीक्षण की अनुमति देने की सिफारिश की गई

एक सरकारी पैनल ने बूस्टर खुराक के रूप में स्पुतनिक लाइट वैक्सीन के तीसरे चरण के परीक्षण की अनुमति देने की सिफारिश की है। सिफारिशों को अंतिम मंजूरी के लिए इसे भारत के औषधि महानियंत्रक – डीसीजीआई के पास भेज दिया गया है। डीसीजीआई ने 4 फरवरी को भारत में स्पुतनिक लाइट वैक्सीन के लिए कुछ नियामक प्रावधानों के अन्‍तर्गत आपातकालीन उपयोग की अनुमति दी थी। हैदराबाद स्थित डॉ रेड्डीज लैबोरेट्रीज ने बूस्टर खुराक के रूप में स्पुतनिक लाइट वैक्सीन के तीसरे चरण के परीक्षण के संचालन के लिए डीसीजीआई को अपना प्रस्ताव भेजा था। हमारे संवाददाता ने आधिकारिक सूत्रों की रिपोर्ट के हवाले से बताया है कि सीडीएससीओ की कोविड-19 पर विषय विशेषज्ञ समिति ने विस्तृत विचार-विमर्श के बाद इसे लागू करने के बारे में समीक्षा की। इसने स्पुतनिक लाइट वैक्सीन के साथ परीक्षण शुरू करने की शर्त के साथ चरण -3 नैदानिक परीक्षण की अनुमति देने की सिफारिश की, जिसके लिए फर्म के पास कुछ नियामक प्रावधानों के तहत देश में आपातकालीन उपयोग की अनुमति है। स्‍पुतनिक लाइट वैक्सीन को अर्जेंटीना और रूस सहित 29 देशों में पहले ही स्‍वीकृत‍ि दी जा चुकी है।

Related posts

Leave a Comment