एक्सपो 2020 दुबई के भारत मंडप का दो लाख से अधिक आगंतुकों ने अवलोकन किया

एक्सपो 2020 दुबई के भारत मंडप का दो लाख से अधिक आगंतुकों ने अवलोकन किया

केंद्रीय वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल द्वारा 1 अक्टूबर, 2021 को उद्घाटित भारत मंडप ने एक्सपो 2020 दुबई में अपना पहला महीना सफलतापूर्वक पूरा कर लिया है। भारत मंडप 3 नवंबर तक भारत की विकास रूपरेखा पर चर्चा करने के लिए विभिन्न सेक्टरों तथा राज्य विशिष्ट सत्रों के साथ दो लाख से अधिक आगंतुकों की मेजबानी कर चुका है। इसने देश के लिए निवेश अवसर भी प्राप्त किए हैं और आगंतुकों को आकर्षित करने के लिए कई सांस्कृतिक समारोहों का आयोजन किया है।

भारत मंडप की सफलता पर टिप्पणी करते हुए, दुबई में भारत के महावाणिज्य दूत तथा एक्सपो 2020 दुबई में भारत के लिए उप महाआयुक्त डॉ. अमन पुरी ने कहा,‘अक्टूबर महीना भारत मंडप के लिए अत्यधिक सफल रहा है। हमने बड़ी संख्या में आगंतुकों को इसमें आते हुए देखा और हमें उम्मीद है कि आगे आने वाले महीनों में भी यह रूझान बना रहेगा।’

उन्होंने यह भी कहा कि ‘जहां भारत मंडप गठबंधन तथा निवेश के लिए और अधिक व्यवसाय अवसरों को प्रदर्शित करेगा, वहीं भारत के त्यौहारों, भोजन तथा सांस्कृतिक प्रदर्शनों की लोकप्रियता दुनिया भर के आगंतुकों को आकर्षित करने में महत्वपूर्ण पहलू रहे हैं।’

यह मंडप 3 अक्टूबर से 9 अक्टूबर तक जलवायु और जैवविविधता सप्ताह के साथ आरंभ हुआ। नवीन तथा नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय ने विभिन्न सत्रों का संचालन किया जिनमें दुनिया के समक्ष भारत के ऊर्जा लक्ष्यों तथा जलवायु कार्य योजना को प्रस्तुत किया गया। इन सप्ताहों के बाद अंतरिक्ष तथा शहरी एवं ग्रामीण विकास सप्ताहों का आयोजन किया गया जहां सेक्टरों के भविष्य, सेक्टरों से संबंधित मुद्दों तथा चुनौतियों, सरकारी विनियमनों तथा प्रोत्साहनों की भूमिका के संबंध में चर्चा की गई।

सेक्टर विशिष्ट सप्ताहों के अतिरिक्त, भारत मंडप ने गुजरात, कर्नाटक तथा लद्दाख के केंद्र शासित प्रदेश के लिए विषिष्ट सप्ताहों की भी मेजबानी की। गुजरात राज्य ने भारत मंडप में कार्यक्रमों का आयोजन किया जिसमें गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने वर्चुअल तरीके से टिकाऊ विकास के लिए इसकी योजना के साथ राज्य के गतिशल फार्मा सेक्टर को प्रदर्शित किया।

इसी प्रकार, कर्नाटक सप्ताह में कर्नाटक सरकार के उच्च शिक्षा, आईटी एवं बीटी, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, कौशल विकास, उद्यमशीलता तथा आजीविका मंत्री डॉ. सी एन अष्वथ नारायण के साथ-साथ कर्नाटक सरकार के वृहद एवं मझोले उद्योग मंत्री मुरगेष निरानी भी उपस्थित हुए।

इसके अतिरिक्त, भारत मंडप में लद्दाख सप्ताह के दौरान सतत अवसंरचना, कनेक्टिविटी, खाद्य प्रसंस्करण तथा पर्यटन जैसे फोकस क्षेत्रों में लद्दाख में अवसरों को प्रदर्शित करते हुए कई कार्यक्रमों के आयोजन किए गए।

कर्नाटक सप्ताह के दौरान भारत और यूएई के बीच निवेश संबंधों को सुदृढ़ बनाने के लिए कर्नाटक सरकार तथा गल्फ इस्लामिक इन्वेस्टमेंट्स (जीआईआई) के बीच साझीदारी पर कई घोषणाएं की गईं। भारत में जीआईआई का निवेश दृष्टिकोण समग्र-सेक्टर वाला है और कंपनी की योजना अगले तीन सालों में और 500 मिलियन डॉलर (3,500 करोड़ रुपये) का निवेश करने की है। कर्नाटक राज्य के लिए यह सबसे प्रमुख उपलब्धियों में से एक है।

जलवायु तथा जैवविविधता सप्ताह में भारत सरकार के केंद्रीय बिजली, नवीन तथा नवीकरणीय ऊर्जा, रसायन एवं उर्वरक मंत्री आर के सिंह और भारत सरकार के बिजली, नवीन तथा नवीकरणीय ऊर्जा सचिव इंदु शेखर चतुर्वेदी जैसे कई गणमान्य व्यक्तियों ने वर्चुअल तरीके से भाग लिया।

अंतरिक्ष सेक्टर सत्रों को भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के अध्यक्ष तथा अंतरिक्ष विभाग के सचिव डॉ. के सीवन और भारतीय अंतरिक्ष संवर्धन और प्राधिकरण केंद्र (इन-स्पेस) के अध्यक्ष डॉ. पवन गोयन्‍का एवं इसरो के वैज्ञानिक सचिव उमा महेश्‍वरन आर ने संबोधित किया।

31 अक्टूबर से आरंभ होने वाले शहरी एवं ग्रामीण विकास सप्ताह में संयुक्त सचिव तथा मिशन निदेशक (स्मार्ट सिटीज मिशन) कुणाल कुमार, ओएसडी (शहरी परिवहन) जयदीप एवं आर्थिक सलाहकार (आवासन) सहित भारत सरकार के आवासन तथा शहरी मामले मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया।

अक्टूबर महीने में भारत मंडप में दशहरा तथा नवरात्रि समारोहों के दौरान कई प्रकार की सांस्कृतिक गतिविधियों का भी आयोजन किया गया। इनमें अनगिनत आगंतुकों एवं गणमान्य व्यक्तियों के लिए लोक नृत्य, कहानी सुनाना तथा संगीत आयोजन शमिल थे। भारत मंडप में दीवाली के जारी समारोहों में रंगारंग प्रतिष्ठान, स्वरंगोली या एलईडी रंगोली के रूप में लाइटिंग, पटाखों के वर्चुअल प्रदर्शन तथा भारत और दुबई से सलीम-सुलेमान, ध्रुव और रूह बैंड जैसे विख्यात कलाकारों के प्रदर्शन शामिल थे।

आगंतुकों के उत्साह के परिणामस्वरूप भारत मंडप एक्सपो 2020 दुबई में सबसे अधिक अवलोकन किए जाने वाले मंडपों में से एक बन गया। अक्टूबर के दौरान कार्यकलापों तथा कार्यक्रमों का हजारों आगंतुकों ने बड़े उत्साह और उत्सुकता के साथ अवलोकन किया।

Related posts

Leave a Comment