अफगानिस्तान में काबुल हवाई अड्डे के उत्तर-पश्चिम में आज एक रॉकेट हमले में एक बच्चे की मौत हो गई

अफगानिस्तान में काबुल हवाई अड्डे के उत्तर-पश्चिम में आज एक रॉकेट हमले में एक बच्चे की मौत हो गई

अफगानिस्तान में काबुल हवाई अड्डे के निकट आज एक बडा विस्फोट होने का समाचार है। दो दिन पहले आतंकवादी संगठन आईएसआईएस-के ने हवाई अड्डे के बाहर एक भीषण विस्फोट किया था जिसमें एक सौ से अधिक लोग मारे गए और कई घायल हुए थे। इनमें अमेरिकी, ब्रिटेन और अफगानिस्तान के नागरिक शामिल हैं। इससे पहले अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा था कि हामिद करजई हवाई अड्डे के भीतर 24 घंटे से 36 घंटे के बीच आतंकवादी हमले का सुराग मिला है। खबरों के अनुसार आज के विस्फोट की…

Read More

अमेरिका के राष्‍ट्रपति ने काबुल हवाई अड्डे पर एक और आतंकवादी हमले की चेतावनी दी

अमेरिका के राष्‍ट्रपति ने काबुल हवाई अड्डे पर एक और आतंकवादी हमले की चेतावनी दी

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने चेतावनी दी है कि अगले 24 से 36 घंटे के भीतर काबुल हवाईअड्डे पर एक और आतंकी हमला हो सकता है। उन्‍होंने कहा कि अफगानिस्‍तान में जमीनी हालात बेहद खतरनाक बने हुए हैं और हवाईअड्डे पर आतंकी हमले का खतरा बरकरार है। बृहस्‍पतिवार को काबुल हवाईअड्डे पर एक आत्मघाती हमले में करीब 170 व्‍यक्ति मारे गये थे।

Read More

G-7 देशों ने तालिबान से नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने की अपनी प्रतिबद्धता पर कायम रहने को कहा

G-7 देशों ने तालिबान से नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने की अपनी प्रतिबद्धता पर कायम रहने को कहा

जी-7 देशों के विदेश मंत्रियों ने अफगानिस्तान में मौजूदा संकट को और बढ़ने से रोकने के लिए अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से एकजुट होने का आह्वान किया है। ब्रिटेन के विदेश मंत्री डॉमिनिक राब ने कल जी-7 देशों के विदेश मंत्रियों तथा यूरोपीय संघ के उच्च प्रतिनिधियों की बैठक की अध्यक्षता के बाद बताया कि जी-7 देशों ने तालिबान से अफगानिस्तान छोड़कर जाने वाले विदेशी तथा अफगान नागरिकों को सुरक्षित मार्ग प्रदान करने की गारंटी देने को कहा है। उन्होंने बताया कि काबुल एयरपोर्ट से लोगों को निकालने के हरसंभव प्रयास किए…

Read More

ब्राजील, रूस, भारत और दक्षिण अफ्रीका कोविड-19 और तपेदिक महामारी के एक साथ उभरने का अध्ययन करेंगे

ब्राजील, रूस, भारत और दक्षिण अफ्रीका कोविड-19 और तपेदिक महामारी के एक साथ उभरने का अध्ययन करेंगे

भारत, ब्राजील, रूस और दक्षिण अफ्रीका के डॉक्टरों और शोधकर्ताओं के एक संघ ने इन देशों में कोविड-19 और तपेदिक महामारी के महामारी विज्ञान के प्रभाव और इनके एक साथ उभरने (इंटरसेक्शन) पर एक अध्ययन करने के लिए आपस में भागीदारी की है। इस संयुक्त शोध के अंतर्गत इन सभी देशों की टीमें तपेदिक (टीबी) संक्रमण के महामारी विज्ञान के प्रक्रिया सम्बन्धी कारकों पर कोविड-19 महामारी के नकारात्मक प्रभाव का पता लगाएँगी और इन दोनों प्रक्रियाओं के आपस में मिल कर उभरने उत्तरदायी कार्यविधि की खोज करेंगी। ये टीमें इन…

Read More