ISRO का श्रीहरिकोटा केंद्र अंतरिक्ष विज्ञान में नए मानदंड स्थापित कर रहा: राष्‍ट्रपति द्रौपदी मुर्मू

ISRO का श्रीहरिकोटा केंद्र अंतरिक्ष विज्ञान में नए मानदंड स्थापित कर रहा: राष्‍ट्रपति द्रौपदी मुर्मू

राष्‍ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने कहा है कि भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन-इसरो का श्रीहरिकोटा केंद्र अंतरिक्ष विज्ञान में नये मानदंड स्थापित कर रहा है। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने आज आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा में पौरांकी में कहा कि आंध्र प्रदेश के लिए गोदावरी, कृष्‍णा, पेन्‍नार, वंशधारा और नागवली जैसी नदियां वरदान हैं। उन्‍होंने राज्‍यवासियों से इन नदियों की सफाई और संरक्षण के प्रति विशेष सतर्कता बरतने की अपील की। राष्‍ट्रपति मुर्मु ने कहा कि नागार्जुन सागर परियोजना का नामकरण महान बौद्ध दार्शनिक नागार्जुन के नाम पर किया गया है, जो अपनी धरोहर के प्रति सम्‍मान के साथ प्रगति की ओर बढ़ने का परिचायक है।

राष्‍ट्रपति मुर्मु आंध्र प्रदेश के दो दिन के दौरे पर आज विजयवाड़ा पहुंचीं। राज्‍यपाल बिश्‍व भूषण हरिचंदन और मुख्‍यमंत्री वाई.एस. जगन मोहन रेड्डी ने हवाई अड्डे पर उनकी अगवानी की।

राष्ट्रपति आज विजयवाड़ा में नौसना दिवस पर विशाखापत्तनम में आयोजित संचालन प्रदर्शन देखेंगी। राष्‍ट्रपति मुर्मू आज रक्षा मंत्रालय, सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय और जनजातीय कार्य मंत्रालय की कुछ परियोजनाओं का ऑनलाइन उद्घाटन करेंगी और कुछ की आधारशिला रखेंगी।

राष्‍ट्रपति मुर्मू कल श्री पद्मावती महिला विश्‍वविद्यालय के विद्यार्थियों, अध्‍यापकों तथा विशिष्ट उपलब्धि प्राप्त करने वाली महिलाओं के साथ संवाद करेंगी।

Related posts

Leave a Comment