भौतिक विज्ञान के लिए नोबेल पुरस्कार अमेरिका के मनाबे, जर्मनी के हैसलमैन और इटली के पारिसी को

भौतिक विज्ञान के लिए नोबेल पुरस्कार अमेरिका के मनाबे, जर्मनी के हैसलमैन और इटली के पारिसी को

भौतिक विज्ञान के लिए वर्ष 2021 का नोबेल पुरस्कार अमेरिका के स्यूकूरो मनाबे, जर्मनी के क्लॉस हैसलमैन और इटली के जॉर्जियो पारिसी को देने की घोषणा की गई है। इन्हें जटिल भौतिक प्रणालियों को समझने में उल्लेखनीय योगदान के लिए नोबेल पुरस्कार से सम्‍मानित किया जाएगा।

अमेरिका के प्रिंसटन विश्‍वविद्यालय के स्यूकूरो मनाबे और जर्मनी के मैक्‍स प्‍लांक मौसम विज्ञान संस्‍थान के क्लॉस हैसलमैन को पुरस्‍कार की आधी राशि मिलेगी। शेष आधी राशि इटली के सेपिएंजा विश्‍वविद्यालय के जॉर्जियो पारिसी को दी जाएगी।

रॉयल स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेज के महासचिव गोरां हैनसन ने बताया कि स्यूकूरो मनाबे ने दिखाया कि वातावरण में कार्बन डाइऑक्साइड के बढ़े हुए स्तर से पृथ्वी की सतह पर तापमान में वृद्धि कैसे होती है। उनके इस कार्य ने वर्तमान जलवायु मॉडल के विकास की आधारशिला रखी।

स्यूकूरो मनाबे और क्लॉस हैसलमैन ने पृथ्वी की जलवायु की भौतिक मॉडलिंग, ग्लोबल वॉर्मिंग के पूर्वानुमान की परिवर्तनशीलता और प्रामाणिकता के मापन के क्षेत्र में उल्‍लेखनीय कार्य किए।

जॉर्जियो पारिसी ने परमाणु से लेकर ग्रहों के मानदंडों तक भौतिक प्रणाली में विकार और उतार-चढ़ाव की परस्पर क्रिया की खोज की।

इस पुरस्‍कार के तहत स्‍वर्ण पदक और एक करोड स्‍वीडिश क्रोनोर यानी करीब एक करोड 14 लाख डॉलर दिए जाते हैं।

Related posts

Leave a Comment