भारत की परमाणु ऊर्जा क्षमता मौजूदा 6 हजार 780 मेगावाट से 2031 तक 22 हजार 480 मेगावाट तक पहुंचने की संभावना है

भारत की परमाणु ऊर्जा क्षमता मौजूदा 6 हजार 780 मेगावाट से 2031 तक 22 हजार 480 मेगावाट तक पहुंचने की संभावना है

भारत की परमाणु ऊर्जा क्षमता मौजूदा छह हजार 780 मेगावाट से 2031 तक 22 हजार 480 मेगावाट तक पहुंचने की संभावना है। यह जानकारी आज लोकसभा में परमाणु ऊर्जा एवं अंतरिक्ष मंत्री डॉक्‍टर जितेंद्र सिंह ने एक प्रश्न के लिखित उत्तर में दी। उन्होंने कहा कि देश में कुल बिजली उत्पादन में परमाणु ऊर्जा की हिस्सेदारी 2020-21 में लगभग 3 दशमलव एक प्रतिशत है। डॉक्‍टर जितेन्‍द्र सिंह ने कहा कि सरकार ने बिजली उत्पादन में परमाणु ऊर्जा की हिस्सेदारी बढ़ाने के लिए एक बड़े परमाणु ऊर्जा क्षमता की शुरुआत की है। उन्‍होंने कहा कि वर्तमान में छह हजार 780 मेगावाट की कुल क्षमता वाले 22 रिएक्टर प्रचालन में हैं। आठ हजार मेगावाट क्षमता वाले दस परमाणु ऊर्जा रिएक्टर निर्माणाधीन हैं। डॉक्‍टर सिंह ने कहा कि सरकार ने सात सौ मेगावाट के दस स्वदेशी तेज दबाव वाले पानी रिएक्टरों को स्थापित करने की मंजूरी दी है।

Related posts

Leave a Comment