उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने देश में कृषि अनुसंधान की गुणवत्ता और क्षमता बढ़ाने का आह्वान किया

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने देश में कृषि अनुसंधान की गुणवत्ता और क्षमता बढ़ाने का आह्वान किया

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने देश में कृषि उत्पादकता और किसानों की आय में वृद्धि के लिए कृषि अनुसंधान की गुणवत्ता और क्षमता बढ़ाने का आह्वान किया है। उन्होंने अनुसंधान और विकास के मद में अधिक राशि के प्रस्‍ताव का सुझाव दिया जो वर्तमान में कृषि सकल घरेलू उत्‍पाद के एक प्रतिशत से भी कम है।

उपराष्ट्रपति ने हैदराबाद में राष्ट्रीय कृषि अनुसंधान प्रबंधन अकादमी आईसीएआर के कृषि-व्यवसाय प्रबंधन कार्यक्रम के स्नातक समारोह में कृषि शोधकर्ताओं, नीति निर्माताओं, उद्यमियों और वैज्ञानिकों से कृषि को जलवायु अनुकूल बनाने के लिए हर संभव प्रयास करने का आह्वान किया। उपराष्ट्रपति नायडू ने इस बात पर जोर दिया कि कृषि विश्वविद्यालयों को नई तकनीकों और सतत उत्पादन के तरीकों को विकसित करने तथा देश के हर हिस्से में इन्‍हें प्रत्‍येक किसान तक ले जाने का प्रयास किया जाना चाहिए। उन्होंने किसानों के उत्पादन और आय को बढ़ाने के लिए प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के नारे ‘लैब टू लैंड’ को आत्मसात करने की आवश्यकता पर भी बल दिया।

इस अवसर पर उपराष्ट्रपति ने कुछ छात्रों को स्वर्ण पदक प्रदान किए। अकादमी के कृषि-व्यवसाय प्रबंधन कार्यक्रम प्रमुख डॉ. रंजीत कुमार, सचिव और महानिदेशक डॉ. टी. महापात्रा, निदेशक डॉ. चौधरी श्रीनिवास राव भी कार्यक्रम में उपस्थित थे।

Related posts

Leave a Comment