IIT दिल्ली में एक अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल ने आईडीईएक्स टीम के साथ मुलाकात की

IIT दिल्ली में एक अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल ने आईडीईएक्स टीम के साथ मुलाकात की

अमेरिकी रक्षा विभाग की अवर सचिव (अनुसंधान एवं इंजीनियरिंग) हेइडी श्यू के नेतृत्व में एक अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल ने 18 सितंबर, 2023 को आईआईटी दिल्ली में रक्षा मंत्रालय के तहत काम कर रहे रक्षा उत्कृष्टता – रक्षा नवाचार संगठन (आईडीईएक्स-डीआईओ) की एक टीम से मुलाकात की। संयुक्त सचिव (रक्षा उद्योग उत्पादन) और डीआईओ के एडिशनल सीईओ अनुराग बाजपेयी ने अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल को आईडीईक्स पर एक संक्षिप्त विवरण प्रस्तुत किया। इस प्रस्तुति में बताया गया कि कैसे यह पहल भारत में रक्षा नवाचार परितंत्र में बदलाव ला रही है। उन्होंने अपनी प्रस्तुति में इस बात पर जोर डाला कि कैसे आईडीईएक्स आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई), मानवरहित समाधान, डोमेन जागरूकता, संचार, अंतरिक्ष, साइबर सुरक्षा आदि जैसे अहम क्षेत्र में नवाचार को बढ़ावा दे रहा है। उन्होंने बताया कि कैसे आईडीईएक्स विजेताओं द्वारा विकसित प्रौद्योगिकियां सेवाओं के लिए बल गुणक के रूप में कार्य कर रही हैं। ये नवप्रवर्तक अपने दोहरे उपयोग वाले समाधानों के साथ विश्व स्तर पर अपनी पहचान बनाना शुरू कर रहे हैं।

संयुक्त सचिव ने बताया कि भारत अमेरिका रक्षा त्वरित पारिस्थितिक तंत्र (इंडस-एक्स) पहल दोनों पक्षों के बीच रणनीतिक प्रौद्योगिकी साझेदारी और रक्षा औद्योगिक सहयोग को और गहरा करेगी। उन्होंने इंडस-एक्स के कार्यकलापों में आई तेजी की सराहना की और बताया कि आईडीईएक्स और रक्षा नवाचार इकाई (डीआईयू- डिफेंस इनोवेशन यूनिट) टीमों ने जल्द ही शुरू होने जा रही संयुक्त चुनौतियों को प्रारंभ करने के लिए दो चुनौतियों को अंतिम रूप दे दिया है।

अत्याधुनिक दोहरे उपयोग वाली प्रौद्योगिकियों के साथ चुनिंदा आईडीईएक्स विजेताओं और रक्षा नवाचार स्टार्ट-अप्स का एक प्रदर्शनी आयोजित की गई। इसमें सूचना सुरक्षा और साइबर सुरक्षा, एआई/मशीन लर्निंग-आधारित इमेजिंग, समुद्री प्रौद्योगिकियों, वायरलेस संचार, अंतरिक्ष प्रौद्योगिकियों और उन्नत सेंसर सहित गहन तकनीकी नवाचारों का प्रदर्शन किया गया।

अमेरिकी रक्षा विभाग की अवर सचिव हेइडी श्यू ने स्टार्ट-अप शोकेस की काफी सराहना की। वो भारत में रक्षा नवाचार परितंत्र में बदलाव लाने के आईडीईएक्स योजना और हितधारकों के तरीके की भी मुरीद हुईं। उन्होंने इंडस-एक्स के सहयोग एजेंडे के तहत तेजी से हो रहे विकास पर ध्यान दिया और सुझाव दिया कि इंडस-एक्स के तहत उन्नत प्रौद्योगिकियों की खरीद पर उचित ध्यान दिया जाना चाहिए।

इंडस-एक्स के बारे में

आईडीईएक्स ने अमेरिकी रक्षा विभाग के साथ साझेदारी में 20-21 जून, 2023 को वाशिंगटन डीसी में भारत-अमेरिका रक्षा त्वरण परितंत्र (इंडस-एक्स) कार्यक्रम का आयोजन किया। यह पहल स्टार्ट-अप परितंत्र, व्यवसाय और शैक्षणिक संस्थान के बीच रणनीतिक प्रौद्योगिकी साझेदारी और रक्षा औद्योगिक सहयोग का विस्तार करेगी। भारतीय और अमेरिकी स्टार्ट-अप द्वारा पहली बार संयुक्त प्रौद्योगिकी प्रदर्शनी ने इंडस-एक्स कार्यक्रम के दौरान काफी रुचि पैदा की। डिफेंस इनोवेशन ब्रिज के तहत सहयोग के एजेंडे में संयुक्त चुनौतियां, नवाचार साझेदारी कार्यक्रम, शैक्षणिक साझेदारी, संयुक्त नवाचार निधि, भारत में परीक्षण और प्रमाणन सुविधाओं की स्थापना आदि शामिल हैं। हाल की द्विपक्षीय बैठकों के दौरान दोनों नेताओं के संयुक्त वक्तव्य में इंडस-एक्स कार्यक्रम का उल्लेख किया गया है।

Related posts

Leave a Comment