भारत महामारी के बाद की दुनिया में लचीली आपूर्ति श्रृंखला बनाने में बहुत बड़ी भूमिका निभाएगा: पीयूष गोयल

भारत महामारी के बाद की दुनिया में लचीली आपूर्ति श्रृंखला बनाने में बहुत बड़ी भूमिका निभाएगा: पीयूष गोयल

उपभोक्ता मामले और खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री पीयूष गोयल ने आज कहा कि भारत महामारी के बाद की दुनिया में लचीली आपूर्ति श्रृंखला बनाने में बहुत बड़ी भूमिका निभाएगा। इंडिया ग्लोबल फोरम में आज बोलते हुए, उन्होंने कहा कि हम उन देशों के साथ अधिक से अधिक जुड़ाव देख रहे हैं जिनकी राजनीतिक व्यवस्था लोकतांत्रिक है, जिसके साथ हम एक भागीदार के रूप में जुड़ सकते हैं और भरोसा कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि भारत उन देशों के साथ अधिक जुड़ाव की दिशा में काम कर रहा है जिनके साथ हमारा एक साझा ईको सिस्‍टम है। वे देश जो पारदर्शी नियम आधारित व्यापार तंत्र में विश्वास करते हैं। उन्होंने कहा कि भारत व्यापार संबंधी मामलों के लिए यूके, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा और यूरोपीय संघ से बात कर रहा है और उन्हें जल्दी से अंतिम रूप देने को इच्छुक है।

पीयूष गोयल ने कहा कि हमारे भरोसेमंद साथी भारत के लिए एक बड़ी भूमिका की तलाश कर सकते हैं और हम अपने दरवाजे व्यापक रूप से खोल रहे हैं। मंत्री ने कहा कि हम निवेश, प्रौद्योगिकी, उच्च गुणवत्ता वाले सामान, उपकरण, मशीनरी पर विचार कर रहे हैं। “हम अपनी सेवाओं और आईटी क्षेत्र को उच्च गुणवत्ता वाली प्रौद्योगिकी सहायता प्रदान करने पर विचार करेंगे”।

पीयूष गोयल ने कहा कि भारत ने विश्व व्यापार संगठन में ट्रिप्स पर छूट को बढ़ावा देने का प्रयास किया है ताकि दुनिया भर में सभी के लिए टीके और अन्य दवाएं उपलब्ध हो सकें। उन्होंने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि कुछ यूरोपीय देश इस पहल का समर्थन नहीं कर रहे हैं और उन्होंने विवेक पर लाभ को प्राथमिकता दी है।

पीयूष गोयल ने कहा कि हमें विश्वास है कि भारत सावधानी और कोविड प्रोटोकॉल का पालन करना जारी रखेगा। उन्होंने कहा कि हम सुरक्षा उपाय और मास्क पहना जारी रखेंगे। मंत्री ने इस बात पर प्रकाश डाला कि विकासशील राष्ट्र होने के बावजूद, भारत पहले ही लगभग 340 मिलियन लोगों का टीकाकरण कर चुका है। “हम मौजूदा समय में एक दिन में 5 मिलियन लोगों का टीकाकरण कर रहे हैं, जिसे हम आने वाले दिनों में और बढ़ने की उम्मीद कर रहे हैं। हमें अन्य देशों के साथ अपनी जानकारी साझा करने में खुशी हो रही है। हमारा कोविन ऐप जिसके माध्यम से हमने टीकाकरण कार्यक्रम किया है, एक उल्लेखनीय सफलता है और अब दुनिया के बड़े हिस्से हमसे कोविन ऐप को अपने देशों में लागू करने के लिए कह रहे हैं।”

पीयूष गोयल ने कहा कि भारत ने कोविड की दूसरी लहर के बावजूद अपनी पहली तिमाही में निर्यात में रिकॉर्ड वृद्धि की है। इसी तरह, भारतीय रेलवे के इतिहास में अप्रैल-जून 2021 के बीच रेलवे माल भाड़ा अब तक का सबसे अधिक है।

Related posts

Leave a Comment