अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा- वह अफगानिस्तान से अमेरिका की सेना को वापस बुलाने के अपने फैसले पर अडिग

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा- वह अफगानिस्तान से अमेरिका की सेना को वापस बुलाने के अपने फैसले पर अडिग

अमेरिका के राष्‍ट्रपति जो बाइडेन कहा है कि वे अफगानिस्‍तान से अमेरिकी सेना हटाने के अपने फैसले पर अडिग हैं। उन्‍होंने कहा कि अफगानिस्‍तान में सत्‍ता का तेजी से पतन हो गया। युद्धग्रस्‍त अफगानिस्‍तान से सेना हटाने को लेकर अमेरिकी राष्‍ट्रपति की आलोचना के मद्देनजर बाइडेन का यह बयान आया है।

रविवार को अफगानी राष्‍ट्रपति अशरफ गनी का देश छोड़कर चले जाने और उनकी सरकार के गिरने के बाद तालिबान ने अपनी विजय की घोषणा कर दी थी।

कल रात, व्‍हाइट हाउस से राष्‍ट्र के नाम सम्‍बोधन में राष्‍ट्रपति बाइडेन ने कहा कि अमेरिकी सैनिकों को ऐसे युद्ध में मरना जारी नहीं रखा जा सकता, जिसमें खुद अफगानी सैनिक लडने को तैयार नहीं है।

अमेरिका के राष्‍ट्रपति जो बाइडेन कहा है कि वे अफगानिस्‍तान से अमेरिकी सेना हटाने के अपने फैसले पर अडिग हैं। उन्‍होंने कहा कि अफगानिस्‍तान में सत्‍ता का तेजी से पतन हो गया। युद्धग्रस्‍त अफगानिस्‍तान से सेना हटाने को लेकर अमेरिकी राष्‍ट्रपति की आलोचना के मद्देनजर बाइडेन का यह बयान आया है। ने कहा है कि अफगानिस्तान में फंसे लोगों को निकालने के लिए काबुल के हामिद करजई अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से परिचालन फिर शुरू हो गया है।

आज सुबह अमेरिकी रक्षा मंत्रालय के संवाददाता सम्मेलन में मेजर जनरल हैंक टेलर ने कहा कि सी-17 विमान कल काबुल भेजा गया और एक अन्य सी-17 विमान भेजे जाने की आशा है। तालिबान के कब्जे वाले काबुल में अब केवल हवाई अड्डा अमरीका के नियंत्रण में है। अमेरिकी रक्षा मंत्रालय का यह बयान कल हवाई अड्डे से परिचालन बंद किए जाने के बाद आया है।

Related posts

Leave a Comment