भारत 10 नवंबर को अफगानिस्तान पर दिल्ली क्षेत्रीय सुरक्षा वार्ता की मेजबानी करेगा

भारत 10 नवंबर को अफगानिस्तान पर दिल्ली क्षेत्रीय सुरक्षा वार्ता की मेजबानी करेगा

भारत 10 नवंबर को अफगानिस्तान पर दिल्ली क्षेत्रीय सुरक्षा वार्ता की मेजबानी करेगा। राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार स्तर की इस बैठक की अध्‍यक्षता राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल करेंगे। इस प्रकार की दो बैठक सितंबर 2018 और दिसंबर 2019 में ईरान में पहले ही हो चुकी हैं। तीसरी बैठक कोरोना महामारी के कारण भारत में नहीं हो सकी थी।

सूत्रों के अनुसार भारत के निमंत्रण को उत्‍साहजनक प्रतिक्रिया मिली है। मध्य एशियाई देशों सहित रूस और ईरान ने अपनी भागीदारी की पुष्टि की है। ऐसा पहली बार होगा कि न केवल अफगानिस्तान के पड़ोसी देश बल्कि सभी मध्‍य एशियाई देश इस प्रारूप में भाग लेंगे। भारत के निमंत्रण को मिली उत्साहजनक प्रतिक्रिया अफगानिस्तान में शांति और सुरक्षा को बढ़ावा देने के लिए क्षेत्रीय प्रयासों में भारत की भूमिका के महत्व को व्‍यक्‍त करती है। सूत्रों के अनुसार चीन और पाकिस्तान को भी इस वार्ता में आमंत्रित किया गया है और उनकी औपचारिक प्रतिक्रिया की प्रतीक्षा है। हालांकि पाकिस्तान ने मीडिया के जरिए संकेत दिया है कि वह इसमें शामिल नहीं होगा।

सूत्रों के अनुसार पाकिस्तान का यह फैसला दुर्भाग्यपूर्ण है, लेकिन आश्चर्यजनक नहीं है क्‍योंकि इससे उसकी अफगानिस्तान के बारे में रक्षात्‍मक मानसिकता प्रदर्शित होती है। पाकिस्तान पिछली बैठकों में भी शामिल नहीं हुआ था।

भारत द्वारा अगले सप्‍ताह आयोजित उच्चस्तरीय वार्ता में भाग लेने से यह साबित होता है कि ये देश अफगानिस्तान में उत्‍पन्‍न स्थिति के बारे में चिंतित हैं और वे एक-दूसरे के साथ इस बारे में परामर्श तथा समन्वय पर चर्चा करना चाहते हैं। भारत की इस प्रक्रिया में अहम भूमिका रहेगी।

Related posts

Leave a Comment