CCI ने हेनेकेन इंटरनेशनल बी.वी. द्वारा यूनाइटेड ब्रुअरीज लिमिटेड में अतिरिक्त इक्विटी शेयरधारिता के अधिग्रहण को मंजूरी दी

CCI ने हेनेकेन इंटरनेशनल बी.वी. द्वारा यूनाइटेड ब्रुअरीज लिमिटेड में अतिरिक्त इक्विटी शेयरधारिता के अधिग्रहण को मंजूरी दी

भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) ने कल प्रतिस्पर्धा अधिनियम, 2002 की धारा 31(1) के तहत हेनेकेन इंटरनेशनल बी.वी. (“एचआईबीवी”) द्वारा यूनाइटेड ब्रुअरीज लिमिटेड(“यूबीएल”) में अतिरिक्त इक्विटी शेयरधारिता के अधिग्रहण को मंजूरी दी।

Commission approves proposed acquisition of additional equity stake in United Breweries Limited by Heineken International B.V.

— CCI (@CCI_India) June 21, 2021

प्रस्तावित लेनदेन एचआईबीवी द्वारा यूबीएल में अधिकतम लगभग 16.40 प्रतिशत शेयरधारिता तक अतिरिक्त इक्विटी हिस्सेदारी के संभावित अधिग्रहण से संबंधित है।

एचआईबीवी एक निवेश होल्डिंग कंपनी है और स्वयं कोई भी व्यावसायिक गतिविधि नहीं करती है। यह उन सभी गैर-डच कंपनियों के लिए प्रत्यक्ष/अप्रत्यक्ष शेयरधारक है, जो हेनकेन समूह का हिस्सा हैं। हेनकेन समूहकंपनियों का एक अंतर्राष्ट्रीय समूह है, जो बीयर, गैर-अल्कोहलिक बीयर, साइडर और साइडर-आधारित पेय और अन्य पेय पदार्थों के उत्पादन, निर्माण, पैकेजिंग, वितरण, विपणन और बिक्री का कारोबार करती हैं।

यूबीएल कंपनी अधिनियम, 1956 के तहत निगमित एक पब्लिक लिमिटेड कंपनी है और मुख्य रूप से भारत में बीयर के निर्माण, बिक्री और वितरण का कारोबार करती है। यूबीएल के शेयर बीएसई लिमिटेड और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया लिमिटेड में सूचीबद्ध हैं।

Related posts

Leave a Comment