CCI ने रिंग प्लस एक्वा लिमिटेड (RPAL) द्वारा मैनी प्रिसिजन प्रोडक्ट्स लिमिटेड (MPPL) में 59.25 प्रतिशत शेयरधारिता के अधिग्रहण को मंजूरी दी

CCI ने रिंग प्लस एक्वा लिमिटेड (RPAL) द्वारा मैनी प्रिसिजन प्रोडक्ट्स लिमिटेड (MPPL) में 59.25 प्रतिशत शेयरधारिता के अधिग्रहण को मंजूरी दी

भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) ने अन्य बातों के साथ-साथ रिंग प्लस एक्वा लिमिटेड (आरपीएएल) द्वारा मैनी प्रिसिजन प्रोडक्ट्स लिमिटेड (एमपीपीएल) में 59.25 प्रतिशत शेयरधारिता के अधिग्रहण की परिकल्पना करने वाले लेनदेन को अपनी मंजूरी दी है।

इस प्रस्तावित संयोजन में अन्य बातों के साथ-साथ आरपीएएल द्वारा एमपीपीएल में 59.25 प्रतिशत शेयरधारिता के अधिग्रहण, रेमंड लिमिटेड (नई) की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी द्वारा जेके तालाबोट लिमिटेड (जेकेटीएल) में जेके फाइल्स एंड इंजीनियरिंग लिमिटेड (जेके फाइल्स) की संपूर्ण शेयरधारिता का अधिग्रहण और आरपीएएल, एमपीपीएल और जेके फाइल्स के इंजीनियरिंग व्यवसाय का नई कंपनी में विलय की परिकल्पना शामिल है।

रेमंड लिमिटेड (रेमंड) और उसकी सहायक कंपनियां कपड़ा, जीवन शैली उत्पाद, ब्रांडेड परिधान, हार्डवेयर और उपकरण, कुछ ऑटोमोटिव पार्ट्स और रियल एस्टेट के निर्माण और बिक्री में संलग्न है। जेके फाइल्स, रेमंड की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है जो, हाथ के औजार, फाइल और कटिंग उपकरण के निर्माण, बिजली उपकरण और इनकी सहायक उपकरणों के आयात और आगे की बिक्री तथा वितरण के व्यवसाय में लगी हुई है। यह जेके फाइल्स की सहायक कंपनी जेकेटीएल, जेके फाइल्स के साथ मिलकर इंजीनियरिंग व्यवसाय कर रही है। जेके फाइल्स की सहायक कंपनी आरपीएएल रिंग गियर, फ्लेक्स प्लेट और वॉटर पंप बियरिंग्स के निर्माण और निर्यात के व्यवसाय से जुड़ी हुई है।

एमपीपीएल विभिन्न उद्योगों के लिए ग्राहकों की डिजाइन आवश्यकताओं पर आधारित सटीक उत्पादों का विनिर्माण कार्य करती है।

Related posts

Leave a Comment