किसानों के लिए बड़ा फैसला, प्रधानमंत्री अन्नदाता आय संरक्षण अभियान की शुरुआत

kisan news

देश के किसानों के कल्याण को अपनी पहली प्राथमिकता बताने वाली केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने अन्नदाता के लिए एक और बड़े कदम का एलान करते प्रधानमंत्री अन्नदाता आय संरक्षण अभियान यानी पीएम आशा योजना शुरु की है। बुधवार को पीएम मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में इस अनाज खरीद नीति के बारे में फैसला हुआ। इस योजना का लक्ष्य किसानों को 2018 के लिए केंद्रीय बजट के मुताबिक उनके उत्पादन के लिए लाभकारी मूल्य सुनिश्चित करना है। दरअसल सरकार की इस योजना का मकसद न्यूनतम समर्थन…

Read More

328 एफडीसी (फिक्‍स्‍ड डोज कांबिनेशन) दवाओं के उत्‍पादन, बिक्री और वितरण पर प्रतिबंध

drugs-news-in-hindi

स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय ने तत्‍काल प्रभाव से मानव उपयोग के उद्देश्‍य से  328 एफडीसी (फिक्‍स्‍ड डोज कांबिनेशन या निश्चित खुराक संयोजन) के उत्‍पादन, बिक्री अथवा वितरण पर प्रतिबंध लगा दिया है। मंत्रालय ने कुछ शर्तों के साथ 6 एफडीसी के उत्‍पादन, बिक्री अथवा वितरण को भी प्रतिबंधित कर दिया है। इससे पहले केंद्र सरकार ने भारत के राजपत्र में 10 मार्च, 2016 को प्रकाशित अपनी अधिसूचनाओं के जरिए औषधि और प्रसाधन सामग्री अधिनियम, 1940 की धारा 26ए के तहत मानव उपयोग के उद्देश्‍य से 344 एफडीसी के उत्‍पादन, बिक्री और वितरण पर प्रतिबंध…

Read More

मंत्रिमंडल नेइथनॉल आपूर्ति वर्ष 2018-19 के लिए इथनॉल मिश्रित पेट्रोल कार्यक्रम के अंतर्गत बी भारी शीरा/आंशिक गन्ना रस और 100 प्रतिशत गन्ना रस से बने इथनॉल के मूल्य निर्धारण/संशोधन को मंजूरी दी

ethanol

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति ने आगामी गन्ना सत्र 2018-19 के लिए बी भारी शीरा/आंशिक गन्ना रस से बने इथनॉल की कीमत में संशोधन/निर्धारण तथा 100 प्रतिशत गन्ना रस से तैयार इथनॉल की ऊंची कीमत तय करने की मंजूरी दे दी है। यह मंजूरी इथनॉल आपूर्ति वर्ष 1 दिसंबर, 2018 से 30 नवंबर, 2019 के लिए इस प्रकार है- बी भारी शीरा/आंशिक गन्ना रस से निकाले गए इथनॉल की मिल कीमत 52.43 रुपये प्रति लीटर निर्धारित (वर्तमान मूल्य 47.13 रुपये प्रति लीटर)करना।…

Read More

मंत्रिमंडल ने पर्यटन के क्षेत्र में सहयोग को मजबूत बनाने के लिए भारत और माल्टा के बीच समझौता ज्ञापन को मंजूरी दी

parytan

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमंडल के पर्यटन के क्षेत्र में सहयोग मजबूत बनाने के लिए भारत और माल्टा के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर को मंजूरी दे दी है। इस समझौता ज्ञापन पर माल्टा के उपराष्ट्रपति की आगामी यात्रा के दौरान हस्ताक्षर किए जाएंगे। प्रमुख विशेषताएं- समझौता ज्ञापन के मुख्य उद्देश्य निम्नलिखित हैं- दोनों देशों में पर्यटन उद्योग के गुण संपन्न गंतव्यों को प्रोत्साहित करना दोनों देशों में पूरे विश्व से पर्यटकों के आगमन को बढ़ाना पर्यटन में मानव संसाधन विकास तथा दोनों देशों में भ्रमण…

Read More