सरकार ने उपभोक्ताओं से धनतेरस और दिवाली पर सिर्फ हॉलमार्क किए गए आभूषण ही खरीदने का अनुरोध किया

सरकार ने उपभोक्ताओं से धनतेरस और दिवाली पर सिर्फ हॉलमार्क किए गए आभूषण ही खरीदने का अनुरोध किया

भारतीय मानक ब्यूरो (बीआईएस), उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय ने उपभोक्ताओं से धनतेरस और दिवाली पर्व के अवसर पर उपभोक्ताओं से यह सुनिश्चित करने का अनुरोध किया है कि वे हॉलमार्क ज्वैलरी ही खरीदें।

माना जाता है कि ऐसे अवसरों पर सोना खरीदने से परिवार में संपन्नता और खुशी का आगमन होता है और इसे बहुत शुभ माना जाता है। इसे देखते हुए, खरीदे जा रहे सोने की शुद्धता और पैसे का सर्वोत्तम मूल्य प्राप्त करने की जानकारी होना महत्वपूर्ण है। खरीदते समय कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए।

23 जून, 2021 से प्रभावी, हॉलमार्किंग को देश के 256 जिलों में 14, 18 और 22 कैरेट के स्वर्ण आभूषणों/कलाकृतियों के लिए हालमार्किंग को अनिवार्य कर दिया गया है। ये 256 जिले ऐसे जिले हैं, जहां कम से कम एक जांच और हालमार्किंग केंद्र है। इन 256 जिलों की सूची बीआईएस की वेबसाइट www.bis.gov.in पर उपलब्ध है।

हॉलमार्क आभूषण को सिर्फ बीआईएस पंजीकृत ज्वैलर्स द्वारा बेचा जा सकता है। आपके जिले में बीआईएस पंजीकृत ज्वैलर्स का विवरण बीआईएस साइट https://www.manakonline.in/MANAK/ApplicationHMLicenceRelatedrpt से हासिल किया जा सकता है।

ग्राहकों से अनुरोध और इन बातों के प्रति जागरूक किया गया हैः

बीआईएस पंजीकत ज्वैलर्स से सिर्फ हॉलमार्क स्वर्ण/ चांदी के आभूषण ही खरीदें।
आंखों से हालमार्क स्पष्ट रूप से नहीं दिखने की स्थिति में, ज्वैलर से एक मैग्नीफाइंग ग्लास मांगें।
हालमार्क किए गए स्वर्ण आभूषण/ कलाकृति पर निम्नलिखित निशान देखें

1 जुलाई, 2021 से प्रभावी छह अंक के अल्फान्यूमेरिक कोड की पेशकश के साथ, हालमार्क स्वर्ण आभूषण में तीन निशान दिखाई देते हैं

  बीआईएस चिह्न
सोने के लिए कैरेट में शुद्धता और सुंदरता (जैसे 22के916,18के750, 14के585 )
छह अंकों का अल्फान्यूमेरिक एचयूआईडी कोड एएएएएए

आभूषण की खरीद के लिए बिल पर जोर देना।
हॉलमार्क वाले आभूषणों की बिक्री के बिल या इनवॉयस में प्रत्येक वस्तु का अलग-अलग विवरण, कीमती धातु का शुद्ध वजन, कैरेट में शुद्धता और सुंदरता और हॉलमार्किंग शुल्कों का उल्लेख होगा।

Related posts

Leave a Comment