राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने आज मुंबई में आईआईटी बॉम्बे में भारत की पहली स्वदेशी सीएआर-टी थेरेपी राष्ट्र को समर्पित की

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने आज मुंबई में आईआईटी बॉम्बे में भारत की पहली स्वदेशी सीएआर-टी थेरेपी राष्ट्र को समर्पित की

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने आज मुंबई में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, आईआईटी बॉम्बे में भारत की पहली स्वदेशी सीएआर-टी थेरेपी राष्ट्र को समर्पित की। इस अवसर पर राष्ट्रपति ने कहा कि यह उपचार, ‘सीएआर-टी सेल थेरेपी’ जो सुलभ और किफायती है। पूरी मानव जाति के लिए एक नई आशा प्रदान करती है। उन्होंने उम्मीद जताई कि भारत की पहली जीन थेरेपी अनगिनत मरीजों को नई जिंदगी देने में सफल होगी।

नेक्‍स सीएआर-19 सीएआर-टी थेरेपी भारत की पहली स्वदेशी थेरेपी है। दुनिया की सबसे किफायती थेरेपी होने के कारण यह देश को उन्नत सेल और जीन थेरेपी के वैश्विक मानचित्र पर मजबूत बनाती है। महाराष्ट्र के राज्यपाल रमेश बैस ने कहा कि सीएआर-टी सेल थेरेपी न केवल बुजुर्ग कैंसर रोगियों के लिए बल्कि महत्वपूर्ण रूप से बाल कैंसर रोगियों के लिए वरदान साबित होगी।

Related posts

Leave a Comment