मुख्य निर्वाचन आयुक्त राजीव कुमार ने कहा, उत्तर प्रदेश सहित समूचे देश में निष्पक्ष और पारदर्शी चुनाव सुनिश्चित किये जायेंगे

मुख्य निर्वाचन आयुक्त राजीव कुमार ने कहा, उत्तर प्रदेश सहित समूचे देश में निष्पक्ष और पारदर्शी चुनाव सुनिश्चित किये जायेंगे

मुख्य निर्वाचन आयुक्त राजीव कुमार ने कहा है कि उत्तर प्रदेश सहित समूचे देश में निष्पक्ष और पारदर्शी चुनाव सुनिश्चित किये जायेंगे। इसके लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। उत्तर प्रदेश में मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए चुनाव अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए गए हैं। उन्‍होंने कहा कि जल्द ही चुनाव कार्यक्रम की घोषणा की जायेगी। मुख्य चुनाव आयुक्त अपने तीन दिवसीय दौरे के आखिरी दिन उत्‍तर प्रदेश में चुनावी तैयारियों की समीक्षा के बाद मीडिया को संबोधित कर रहे थे।

मुख्‍य निर्वाचन आयुक्‍त ने कहा कि उत्‍तर प्रदेश देश का सबसे बडा और एक महत्‍वपूर्ण राज्‍य है। उन्‍होंने कहा कि अधिकारियों और पुलिस विभाग को निष्‍पक्षता से काम करने के निर्देश दिए गये हैं। सभी चुनावी खर्च चैक या डिजिटल लेनदेन के माध्‍यम से किया जाएगा। राजीव कुमार ने कहा कि ईवीएम को लेकर राजनीतिक दलों के बीच कई आशंकाएं हैं। सभी राजनीतिक दलों ने मांग की है कि ईवीएम को लाने ले जाने का कार्य केवल सरकारी वाहनों से किया जाना चाहिए।

मुख्‍य निर्वाचन आयुक्‍त ने कहा कि उततर प्रदेश में इस बार 15 करोड 29 लाख मतदाता हैं। कुछ मतदाता केंद्र महिलाओं और दिव्‍यांगजनों के लिए अलग से बनाये जाएंगे। 85 वर्ष से अधिक आयु के मतदाताओं को घर से वोट डालने की सुविधा प्रदान की जाएगी।

राजीव कुमार ने बताया कि इस बार तीन एप लांच किए जा रहे हैं। एक के जरिये मतदाता चुनाव प्रक्रिया के दौरान प्रलोभन देने, मदिरा बांटने और धन के दुरुपयोग संबंधी शिकायतें सीधे निर्वाचन आयोग को कर सकते हैं। दूसरा एप वोटर हेल्‍पलाईन से संबंधित है जिस पर मतदाता चुनाव संबंधी जानकारी प्राप्‍त कर सकते हैं। तीसरा एप -अपने उम्‍मीदवार को जानें, मतदाताओं को उम्‍मीदवारों के बारे में जानकारी उपलब्‍ध कराएगा।

मुख्‍य निर्वाचन आयुक्‍त ने बताया कि उत्‍तर प्रदेश के तीस जिलों की सीमाएं नौ राज्‍यों से लगती हैं। सात जिले पडोसी देश नेपाल से जुडे हैं। इसे देखते हुए सीमाओं पर सभी सुरक्षा एजेंसियां पूरी तरह सुरक्षा व्‍यवस्‍था करेंगी। उन्‍होंने बताया कि भारतीय रिजर्व बैंक ने कहा है कि शाम पांच बजे के बाद बैंकों की कैश वैन नहीं चलेंगी। मुख्‍य निर्वाचन आयुक्‍त ने कहा कि निष्‍पक्ष चुनाव कराना जिला मजिस्‍ट्रेट और पुलिस अधीक्षक की जिम्‍मेदारी होगी।

इससे पहले, आयोग की टीम ने तीन मतदाता जागरूकता एक्‍सप्रेस वाहन रवाना किये। ये वाहन उन 22 जिलों में जाएंगे जहां कम संख्‍या में लोग वोट डालते जाते हैं। ये वाहन जहां भी जाएंगे वहां चुनाव विषयों से संबंधित क्विज, गीत, संगीत, नुक्‍कड नाटक आदि का आयोजन भी किया जाएगा।

Related posts

Leave a Comment