देश में आगामी दो-ढाई महीने में अत्‍यधिक गर्मी पड़ने की सम्‍भावना

देश में आगामी दो-ढाई महीने में अत्‍यधिक गर्मी पड़ने की सम्‍भावना

देश में आगामी दो-ढाई महीने में अत्‍यधिक गर्मी पड़ने की सम्‍भावना है। इसके मद्देनजर आज नई दिल्ली में केंद्रीय पृथ्वी विज्ञान मंत्री किरेन रिजिजू ने विभिन्‍न हितधारकों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि अत्यधिक गर्मी के बीच आम चुनावों को देखते हुए राज्य सरकारों सहित सभी हितधारकों ने इस संबंध में व्‍यापक तैयारी की है। श्री रिजिजू ने कहा कि आगे आने वाला समय बहुत चुनौतीपूर्ण होगा। इसलिए मौसम की विषम परिस्थितियों को देखते हुए बडी आबादी वाले देश में पहले से तैयारी करना नितांत आवश्यक है।

मौसम विज्ञान विभाग के महानिदेशक डॉ. मृत्युंजय महापात्र ने देश के मध्य, उत्तरी मैदानी इलाकों और दक्षिणी हिस्से के कई इलाकों में इन गर्मियों में अधिक समय तक लू चलने की संभावना जताई है। उन्होंने कहा कि अप्रैल से जून के बीच अधिकतम तापमान सामान्य से अधिक रहने की संभावना है। डॉ. महापात्र ने कहा कि गुजरात, मध्य महाराष्ट्र, उत्तरी कर्नाटक, राजस्थान, मध्य प्रदेश, ओडिशा, उत्तरी छत्तीसगढ़ और आंध्र प्रदेश में गर्मी का सबसे अधिक प्रभाव पड़ सकता है। अप्रैल में भी देश के अधिकांश हिस्सों में अधिकतम तापमान सामान्य से अधिक रहने की संभावना है। हालाँकि, देश के पूर्वी, पूर्वोत्‍तर और उत्तर-पश्चिम हिस्‍सों के अलग-अलग इलाकों में अधिकतम तापमान सामान्य और इससे नीचे रहेगा।

राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के सदस्य कमल किशोर ने कहा कि प्राधिकरण गर्मी और लू पर राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के साथ नियमित रूप से बातचीत कर रहा है। उन्होंने कहा कि लू से होने वाली मृत्‍यु को पूरी तरह खत्म करने के लिए जागरूकता महत्वपूर्ण है।

Related posts

Leave a Comment