अंडमान निकोबार द्वीपसमूह में लोकसभा चुनाव के पहले चरण के तहत 19 अप्रैल को मतदान

अंडमान निकोबार द्वीपसमूह में लोकसभा चुनाव के पहले चरण के तहत 19 अप्रैल को मतदान

अंडमान निकोबार द्वीपसमूह में लोकसभा चुनाव के पहले चरण के तहत 19 अप्रैल को मतदान कराया जाएगा। इसके लिए पूरे द्वीपसमूह में चार सौ बारह मतदान केन्द्र बनाए गए हैं।

द्वीपसमूह में इस बार तीन लाख पन्द्रह हजार एक सौ अड़तालीस मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में शामिल हैं। इनमें एक लाख चौंसठ हजार बारह पुरूष, एक लाख इक्यावन हजार एक सौ बत्तीस महिलाएं पांच हजार पचास पहली बार मतदान करने वाले मतदाता हैं। दिव्यांग मतदाताओं की संख्या दो हजार चार सौ बाईस है, जबकि पचासी वर्ष से अधिक उम्र के एक हजार बयालीस वरिष्ठ मतदाता भी चुनावी प्रक्रिया का हिस्सा है। इस चुनाव में कार निकोबार में पुरूषों की अपेक्षा महिला मतदाताओं की संख्या अधिक है। इस आम चुनाव में द्वीपों के आदिम जनजाति समूह के सदस्य भी एक बार फिर अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।

द्वीपसमूह में इस बार कुल बारह उम्मीदवार चुनावी मैदान में है। इनमें दो महिलाओं सहित पांच निर्दलीय उम्मीदवार भी है। इस बार के चुनाव में प्रमुख उम्मीदवारों में द्वीपसमूह से तीन बार के पूर्व सांसद और भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार बिष्णु पद रे चुनावी मैदान में हैं, तो वहीं भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने अपने वर्तमान सांसद कुलदीप राय शर्मा को एक बार फिर टिकट दिया है। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी की ओर से डी. अय्यप्पन, ऑल इंडिया अन्ना डी एम के की ओर से के जे बी सेल्वाराज और अंडमान निकोबार डेमोक्रेटिक कांग्रेस की ओर से मनोज पॉल अपना भाग्य आजमाएंगे।

इस बार के चुनाव में बिजली, पानी, सड़क, चाथम-बम्बूफ्लाट और मिडिल स्ट्रेट पुल निर्माण प्रमुख चुनावी मुद्दा है। सरकारी क्षेत्र की नौकरियों में स्थानीय लोगों को आरक्षण मिले, ये भी एक महत्वपूर्ण चुनावी मुद्दा बनकर उभरा है।

Related posts

Leave a Comment